भीलवाड़ा पुलिस ने किया कमाल, शहर के बीच हुई 14 लाख की लूट का 24 घंटे में खोला राज, 4 गिरफ्तार

भीलवाड़ा पुलिस ने किया कमाल, शहर के बीच हुई 14 लाख की लूट का 24 घंटे में खोला राज, 4 गिरफ्तार

भीलवाड़ा न्यूज़ उपदटेस: पुलिस पर रिश्वतखोरी काम चोरी और लापरवाही के आरोप-प्रत्यारोप लगते रहते हैं लेकिन भीलवाड़ा शहर की पुलिस ने शहर के बीच दिनदहाड़े सरेराह 14 लाख की हुई लूट का मात्र 24 घंटे में खुलासा ही नहीं किया ।

इस लूट में शामिल   अंतर राज्य गिरोह  के 4 सदस्यों को पड़ोसी राज्य मध्य प्रदेश से गिरफ्तार कर उनके पास से लूटी गई नगदी से मात्र ₹60000 कम शेष राशि बरामद भी कर ली पुलिस अधीक्षक विकास शर्मा के नेतृत्व में पुलिस की टीम ने भीलवाड़ा में यह एक मिसाल कायम की है।

पुलिस अधीक्षक विकास शर्मा ने आज शहर कोतवाली में मीडिया से रूबरू होते हुए बताया कि शहर के मध्य नगर परिषद के सामने स्थित डीपी ज्वेलर्स शोरूम के कार्मिक भगवती लाल जीनगर पुत्र किशन लाल जीनगर निवासी बनड़ा हाल हॉट 8 कृष्णा विहार ग्रिड के पास तथा डी पी ज्वेलर्स के यहां कैशियर की नौकरी करता है भगवती लाल अपने सहकर्मी भेरु लाल कुमावत के साथ रोजाना की तरह 23 जुलाई को डीपी ज्वेलर्स से 14 लाख रुपए नकदी का बैग लेकर ज्वेलर्स की कार से एसके प्लाजा स्थित आईसीआईसीआई बैंक में जमा कराने के लिए दोपहर करीब 12:30 बजे निकले भेरु लाल कुमावत कार चला रहे थे और उसके समीप भगवतीलाल नोटों से भरा एक लेकर बैठा था उनकी कार राजेंद्र मार्ग रोड पर स्थित कुल्लड़ चाय वाले के यही पहुंची थी कि उनके पीछे से दोनों ओर से दोनों मोटर साइकिल आई और दोनों मोटरसाइकिल पर चार जने सवार थे जिनके चेहरों पर नकाब थे दोनों ओर से मोटरसाइकिल पर सवार युवकों ने उनके पास जो धारदार हथियार थे उससे उन पर हमला किया इससे कार की खिड़की के शीशे टूट गए और उस पर तोता भेरुलाल जी पर भी हमला करके उसके पास से नोटों का बैग छीन कर भाग गए।

एसपी शर्मा ने बताया इस घटना के बाद तत्काल घटनास्थल का निरीक्षण करने के बाद अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मुख्यालय गजेंद्र सिंह जोधा के नेतृत्व में पुलिस उप अधीक्षक शहर भंवर रणधीर सिंह तथा पुलिस उपाधीक्षक महिला प्रकोष्ठ राहुल जोशी के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया जिसमें शहर कोतवाल डीवी दादी प्रताप नगर थाना प्रभारी भजनलाल पुर थाना प्रभारी मुकेश कुमार भीमगंज थाना प्रभारी सुरेश चौधरी तथा पुलिस निरीक्षक गजेंद्र सिंह नरूका सब इंस्पेक्टर स्वागत पांड्या साइबर सेल के सहायक उपनिरीक्षक आशीष कुमार आदि को शामिल करते हुए आसपास सहित करीब 100 सीसीटीवी फुटेज खंगाले गए और 20000 मोबाइल नंबर की जांच पड़ताल की गई तथा 70 से अधिक अपराधिक प्रवृत्ति की बदमाशों से पूछताछ की गई।

एसपी शर्मा ने बताया कि सभी टीमों को मैं तो सुराग मिलने पर लूट की तलाश में अलग-अलग उज्जैन इंदौर रतलाम चित्तौड़गढ़ के लिए रवाना की गई और सभी टीमों ने बिना रुके लगातार साइबर सेल की मदद लेते हुए छापे मारे और आखिर पुलिस को सफलता मिल गई और इस लूट में शामिल गिरफ्तार आरोपी

मोहम्मद अबरार पुत्र मोहम्मद इस्माइल 45 निवासी ग्रीन पार्क चदंन कालोनी इंदौर रोशन उर्फ बंटी पुत्र फूलचंद लखारा 35 साल निवासी कालका माता शिव नगर के पीछे पायरा प्रताप नगर उदयपुर सफीक पुत्र शौकीन शाह फकीर 32 साल निवासी 3– सी तनजीम खजराना इंदौर मुस्तफा पुत्र अयूब मोहम्मद 21 साल नई आबादी हमीरगढ़ एसपी ने बताया कि इन चारों के पास से लूटी गई 14 लाख रुपए की राशि में से ₹60000 इन्होंने खर्च कर दिए शेष राशि 13 लाख ₹40000 इनके पास से बरामद कर ली गई है उन्होंने बताया कि यह गिरोह अंतर राज्य लूट गिरोह है राजस्थान सहित मध्य प्रदेश और अन्य राज्यों में भी इस तरह की वारदातों को अंजाम देते हैं ऐसे करते वारदाते एसपी विकास शर्मा ने बताया कि यह गिरोह वारदात से पहले भीड़भाड़ वाले इलाके बैंक शोरूम आदि पर तीन-चार दिन पूरी तरह की करते हैं उससे आने जाने वाले रास्तों की पूरी तरह से रेकी करते हैं और फिर वारदात को अंजाम देते हैं इन चारों से पूछताछ की जा रही है इनको कल कोर्ट में पेश कर रिमांड लिया जाएगा इन चारों से लूट की और भी वारदातें खुलने की संभावना है।